दाऊद इब्राहिम को ज़हर किसने दिया? पूरी कहानी पता चल गई!

Who poisoned Dawood Ibrahim: अंडर वर्ल्ड डॉन और मोस्ट वांटेड आतंकी दाऊद इब्राहिम को लेकर अच्छी खबर आई है. दाऊद को किसी ने ज़हर दे दिया है और वो पाकिस्तान के कराची के एक अस्पताल में भर्ती है.

Dawood Ibrahim poisoned: दाऊद इब्राहिम को क्या हुआ? (What happened to Dawood Ibrahim?) दाऊद इब्राहिम को जहर किसने दिया? (Who poisoned Dawood Ibrahim) दाऊद इब्राहिम ज़िंदा है या मर गया? (Is Dawood Ibrahim alive or dead?) ऐसे ही तमाम सवाल गूगल में ट्रेंड हो रहे हैं. क्योंकि इंटरनेशनल क्रिमिनल, अंडरवर्ल्ड डॉन और मोस्ट वांटेड आतंकी दाऊद इब्राहिम कराची के अस्पताल में भर्ती है. Dawood Ibrahim को किसी ने खाने में ज़हर मिला कर दे दिया है जिसके बाद उसके मरने-जीने की नौबत आ गई.

दाऊद इब्राहिम का पाकिस्तान के कराची के एक अस्पताल में इलाज (Dawood Ibrahim hospitalised) चल रहा है. रिपोर्ट्स के मुताबिक आतंकी दाऊद की हालत खराब है और उसका बचना लगभग नामुमकिन है. बताया गया है कि दाऊद को किसी अनजान व्यक्ति ने ज़हर दिया है लेकिन वो अनजान उसका कोई करीबी भी हो सकता है. हालांकि इस घटना की कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है.

दाऊद इब्राहिम कराची के अस्पताल में भर्ती है

मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो दाऊद को गंभीर हालत में कराची के एक हस्पताल में एडमिट किया गया है. 18 दिसंबर को खबर आई कि वो पिछले दो दिनों से अपना इलाज करवा रहा है. हॉस्पिटल में कड़ी सुरक्षा के बीच उसका इलाज चल रहा है. जिस फ्लोर में दाऊद को भर्ती किया गया है और पूरी मंजिल को खाली किया गया है.

मुंबई पुलिस अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद के रिश्तेदारों जैसे अलीशाह पारकर और साजिद वागले से इस मामले में और अधिक जानकारी हासिल करने में लगी हुई है.

सोशल मीडिया में दाऊद के अस्पताल में भर्ती होने को लेकर तरह-तरह के दावे किए जा रहे हैं. ये भी कहा जा रहा है कि दाऊद को कुछ नहीं हुआ है बल्कि ये सिर्फ ISI की एक साजिश है. कुछ का कहना है कि दाऊद अपनी मौत का नाटक (Dawood Faking His Death) कर रहा है.

दाऊद इब्राहिम की उम्र 65 साल है, वह एक भगोड़ा है जिसे भारत सहित दुनियाभर की जांच एजेंसिया तलाश रही हैं. आतंकी दाऊद को पाकिस्तान ने पनाह दी है लेकिन पाकिस्तान हमेशा इस बात को नकारता रहा है. हालांकि पाकिस्तान माने न माने भारतीय जांच एजेंसियों को दाऊद के घर का एड्रेस तक मालूम है. कुछ दिन पहले ही खबर आई थी कि दाऊद कई तरह की गभीर बिमारियों से जूझ रहा है और इलाज के दौरान उसकी दो उँगलियाँ भी काटनी पड़ी थीं.

बता दें कि 1993 में हुए सीरियल ब्लास्ट का मास्टरमाइंड दाऊद ही था. इस आतंकी हमले के बाद वो UAE और उसके बाद पाकिस्तान भाग गया था. साल 2011 में FBI और FORBES की एक लिस्ट में उसे दुनिया का तीसरा मोस्ट वांटेड भगोड़ा करार दिया गया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *