Sukhdev Singh Gogamedi Murder News: करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की दिन दहाड़े गोली मार कर हत्या

Sukhdev Singh Gogamedi Murder News: Karni Sena President Sukhdev Singh Gogamedi shot dead in broad daylight

Sukhdev Singh Gogamedi Murder Live Updates: राजस्थान की राजधानी जयपुर में मंगलवार को राजपूत करणी सेना के प्रदेश अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी को गोलीमार कर हत्या कर दी गई है. श्यामनगर इलाके में कुछ लोगों ने उनके ऊपर हमला कर दिया इस दौरान उन्हें गोली लगी. उन्हें तत्काल मानसरोवर स्थित मेट्रो मास अस्पताल में भर्ती कराया गया. जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई.

Rajput Karni Sena Chief Sukhdev Singh Gogamedi Murder Live Updates: राजस्थान की राजधानी जयपुर में राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी को गोली मारकर हत्या कर दी गई. आननफानन में उन्हें अस्पताल ले जाया गया जहां उनकी मौत हो गई. घटना के बाद हड़कंप मच गया. पुलिस मौके पर पहुंच कर शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की. पुलिस हमलवारों के तलाश जुट गई है. बताते चलें कि बदमाशों ने गोगामेड़ी को चार गोलियां मारी हैं. हमला उनके श्यामनगर इलाके वाले घर में हुई.

Sukhdev Singh Gogamedi shot dead: पुलिस के मुताबिक, गोलीबारी के बाद आसपास के लोग एकत्रित गए. गोगामेड़ी को तुरंत मेट्रो मास अस्पताल ले जाया गया. जहां डॉक्टर्स ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। घटना के वक़्त गोगामेड़ी के साथ मौजूद अजित सिंह गंभीर रूप से घायल हो गए हैं.

जानकारी के मुताबिक सुखदेव सिंह गोगामेड़ी मंगलवार दोपहर करीब 1:45 बजे श्याम नगर जनपद स्थित घर के बाहर खड़े थे. इसी दौरान स्कूटर पर दो बदमाश आए और गोगामेड़ी पर फायरिंग कर दी. सुचना मिलते ही श्याम नगर पुलिस मौके पर पहुंची।

कौन थे गोगामेड़ी?

Kaun the gogamedi: सुखदेव सिंह गोगामेड़ी लंबे वक़्त से राष्ट्रीय करणी सेना से जुड़े थे. लेकिन करणी सेना के संगठन में कुछ विवाद होने के बाद उन्होंने राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के नाम से अपना अलग संगठन बना लिया था. वे ही इसके अध्यक्ष थे. बता दें कि साल 2017 में संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत की जयगढ़ में शूटिंग के दौरान राजपूत करणी सेना के लोगों ने तोड़फोड़ की थी. फिल्म डायरेक्टर भंसाली पर हमला भी किया गया था. तब गोगामेड़ी, पद्मावत फिल्म पर विवाद और फिर गैंगस्टर आनंदपाल एनकाउंटर केस के बाद राजस्थान में हुए प्रदर्शनों से चर्चा में आए थे.कत्रित

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *